जनमानस का परिष्कार धर्मतंत्र के मंच से


viewed=0



Category :
inspiring quotations  


जनमानस का परिष्कार धर्मतंत्र के मंच से पं श्रीराम शर्मा आचार्य चौरासी लाख योनियों के बाद मनुष्य जन्म मिलने और उसका सदुपयोग करके जीवन लक्ष्य प्राप्त करने का अवसर अतिशय सौभाग्य माना जाना चाहिए।

Release date : 12-12-2020

Write Your Comments Here: